बिहार मुख्यमंत्री अत्यंत पिछड़ा वर्ग सिविल सेवा प्रोत्साहन योजना | Bihar Mukhyamantri Atyant Pichhda Varg Civil Seva Protsahan Yojana 2022, Registration, Form Download, Online Status

 नमस्कार दोस्तों हमारे ब्लॉग पर आप सभी का स्वागत है। आज का हमारा यह ब्लॉग बहुत ही ज्यादा रोचक होने वाला है क्योंकि आज हम बात करेंगे बिहार मुख्यमंत्री अत्यंत पिछड़ा वर्ग सिविल सेवा पोषण योजना के विषय में। इस योजना के विषय में आज हम पूरे विस्तार से जानेंगे कि आखिर क्या है यह योजना, क्या उद्देश्य है, किन किन लोगों को इस योजना के माध्यम से लाभ प्राप्त होने वाला है। कैसे आवेदन करेंगे। क्या दस्तावेज लगेंगे। इन सभी विषयों पर चर्चा होगी।

क्या है यह बिहार मुख्यमंत्री अत्यंत पिछड़ा वर्ग सिविल सेवा प्रोत्साहन योजना | Bihar Mukhyamantri Atyant Pichhda Varg Civil Seva Protsahan Yojana 2022

  • बिहार मुख्यमंत्री अत्यंत पिछड़ा वर्ग सिविल सेवा प्रोत्साहन योजना बिहार राज्य में केंद्र सरकार के द्वारा आरंभ की गई है। यह योजना अनुसूचित जाति और जनजाति के विकास के लिए है।
  • केंद्र सरकार की तरह बिहार राज्य की सरकार ने अनुसूचित जाति और जनजाति के लिए एक योजना की शुरुआत की है।
  • इसका एक ही मुख्य लक्ष्य है कि अनुसूचित जाति और जनजाति दोनों को वित्तीय रूप से सहायता प्राप्त हो सके।
  • बिहार राज्य में बिहार मुख्यमंत्री अत्यंत पिछड़ा वर्ग सिविल सेवा प्रोत्साहन योजना के तहत अनुसूचित जाति और जनजाति के उन सभी उम्मीदवारों को वित्तीय रूप से सहायता मिलेगी, जो राज्य सरकार एवं केंद्र सरकार द्वारा आयोजित किसी भी प्राइमरी लेवल की परीक्षा को पास किए होंगे।

इस योजना का मुख्य उद्देश्य क्या है | Bihar Mukhyamantri Atyant Pichhda Varg Civil Seva Protsahan Yojana 2022 : Objectives

  • इस योजना का लाभ केवल उन्हीं लोगों को मिल सकता है जो पिछले वर्ग से हो।
  • ऐसे विद्यार्थी जो पिछले वर्ग से हैं एवं उच्च शिक्षा में रुचि रखते हैं।लेकिन आर्थिक रूप से कमजोर है उनको इस योजना का लाभ प्राप्त होगा।
  • बिहार राज्य में अल्पसंख्यकों के लिए कुल 35 हॉस्टल है जिनमें लगभग 4000 के आसपास विद्यार्थी रहते हैं।
  • अल्पसंख्यकों के हॉस्टल में रहने वाले समस्त विद्यार्थियों को बिहार मुख्यमंत्री अत्यंत पिछड़ा वर्ग सिविल सेवा प्रोत्साहन योजना का लाभ प्राप्त होगा।
  • हाल ही में सरकार द्वारा कुछ नए हॉस्टल का भी निर्माण किया जा रहा है। जिनमें छात्रों की संख्या 4000 से बढ़कर 6000 तक भी पहुंच सकती हैं।

बिहार मुख्यमंत्री अत्यंत पिछड़ा वर्ग सिविल सेवा प्रोत्साहन योजना 2022 विशेषता | Bihar Mukhyamantri Atyant Pichhda Varg Civil Seva Protsahan Yojana : Features

  • अनुसूचित जाति एवं जनजाति के जो भी विद्यार्थी सरकारी परीक्षा में रूचि रखते है उनको सरकार प्रोत्साहित करती हैं।
  • इस योजना की विशेषता यह है कि बिहार राज्य सरकार सिविल परीक्षा में रुचि रखने वाले विद्यार्थियों को प्रोत्साहित करेगी। ताकि वह एडमिनिस्ट्रेटिव सर्विस के काबिल बन सके और परीक्षा को पास कर अपना भविष्य उज्जवल कर सके।
  • यूपीएससी एवं बीपीएससी परीक्षा इस योजना के तहत आता है। जो भी अनुसूचित जाति एवं जनजाति के विद्यार्थी सिविल सर्विस परीक्षा के प्रीलिम्स परीक्षा को पास करते है उनको और भी प्रोत्साहित करने के लिए इस योजना को बनाया गया है।
  • प्रोत्साहन के रूप में अनुसूचित जाति एवं जनजाति के विद्यार्थियों को 50000 से लेकर ₹100000 तक की वित्तीय सहायता दी जाती है।
  • बिहार सरकार प्रोत्साहन राशि उम्मीदवारों को किस्तों में देती है।
  • राशि को प्राप्त करने के लिए उम्मीदवारों को सरकारी दफ्तर के चक्कर नहीं लगाने पड़ेंगे क्योंकि बिहार सरकार उम्मीदवारों को प्रोत्साहन राशि उनके बैंक खाते में सीधे जमा करवाएगी।
  • इतना ही नहीं इस योजना के तहत यह भी निर्णय लिया गया है कि जो भी विद्यार्थी छात्रावास में रहते हैं एवं ओबीसी छात्र एवं छात्राएं है। उनको भी पढ़ाई के लिए ₹1000 प्रति महीने दिए जाएंगे।
  • साथी छात्रों को बीपीएल कार्ड पर 15 किलो गेहूं और चावल मिलेंगे जिसमें सब्सिडी लगी होगी।

योजना का लाभ उठाने के लिए क्या योग्यता होनी चाहिए? | Bihar Mukhyamantri Atyant Pichhda Varg Civil Seva Protsahan Yojana : Benefits

जो भी अनुसूचित जाति एवं जनजाति के लोग बिहार मुख्यमंत्री अत्यंत पिछड़ा वर्ग सिविल सेवा प्रोत्साहन योजना का लाभ उठाना चाहते हैं। उनके लिए बता दें कि इस योजना के लिए आपके पास एक निश्चित योग्यता होनी चाहिए। जैसे:-

  • बिहार के स्थाई निवासी होने चाहिए।
  • जनरल केटेगरी वाले लोग इस योजना का लाभ बिल्कुल भी नहीं उठा सकते हैं
  • जो भी उम्मीदवार आवेदन करेंगे उनके नाम का बैंक अकाउंट होना जरूरी है
  • आप पिछड़़े हुए जाति से होने चाहिए

मुख्य दस्तावेज | Bihar Mukhyamantri Atyant Pichhda Varg Civil Seva Protsahan Yojana : Required Documents

आइए जानते हैं कि इस योजना के लिए क्या-क्या मुख्य दस्तावेज लगेंगे।

  • बिहार के स्थाई निवासी होने का प्रमाण पत्र।
  • सिविल सर्विस परीक्षा जैसे यूपीएससी और बीपीएससी प्राइमरी परीक्षा पास करने का प्रमाण पत्र।
  • आवेदक का खुद का बैंक अकाउंट पासबुक।
  • आवेदक के पारिवारिक आय का प्रमाण पत्र।
  • आधार कार्ड, राशन कार्ड एवं वोटर कार्ड जैसे पहचान पत्र।

ऑनलाइन आवेदन कैसे करें | Bihar Mukhyamantri Atyant Pichhda Varg Civil Seva Protsahan Yojana 2022 : Online Registration

  • बिहार मुख्यमंत्री अत्यंत पिछड़ा वर्ग सिविल सेवा प्रोत्साहन योजना के लिए यदि आप आवेदन करना चाहते हैं तो इसके लिए आपको इसके ऑफिशल वेबसाइट पर जाना होगा।
  • ऑफिशल वेबसाइट
  • वेबसाइट पर जाने के बाद आपको हम पर दिखेगा जहां पर आप फार्म हम के लिए आवेदन कर सकते हैं।
  • अब अपनी सभी जानकारी को सही-सही दस्तावेज के साथ भरकर ऑनलाइन सबमिट कर दीजिए।

दोस्तों यह सभी जानकारी जुड़े हुए थे बिहार मुख्यमंत्री अत्यंत पिछड़ा वर्ग सिविल सेवा प्रोत्साहन योजना से। हम आशा करते हैं कि आपको हमारा आज का यह ब्लॉग पसंद आया होगा।

यदि आपको हमारा यह ब्लॉक पसंद आया है तो इसे लाइक करना, कमेंट करना एवं शेयर करना बिल्कुल भी ना भूलें।

बिहार सरकारी योजनाएंग्रेजुएशन कोर्ससरकारी योजनाएं
Spread the love

Leave a Comment