राजस्थान अन्नपूर्णा रसोई योजना 2022 | Rajasthan Yuva Protsahan Yojana 2022, Registration, Benefits, Eligibility

राजस्थान सरकार ने इस योजना को 15 दिसंबर 2016 में शुरू किया था।अशोक गहलोत सरकार  द्वारा कोई भूखा ना सोए के संकल्प के साथ यह योजना 22 जून 2020 को प्रदेश के नगरीय क्षेत्र में धानमंत्री इंदिरा गांधी के नाम परइंदिरा गांधी रसोई योजना को शुरू करने के लिए घोषणा की गई थी।  इस योजना को अशोक गहलोत सरकार द्वारा पूर्व प्रधानमंत्री स्वर्गवासी श्री राजीव गांधी जी की जयंती पर 20 अगस्त 2020 को औपचारिक रूप से शुरू कर दिया गया था।

इस योजना के अंतर्गत राजस्थान के शहरी इलाकों में दोनों समय का खाना जरूरतमंद लोगों को रियायती दर पर उपलब्ध करवाया जाता है। यह इंदिरा रसोई योजना पूर्ववर्ती वसुंधरा राजे की बीजेपी सरकार द्वारा शुरू की गई अन्नपूर्णा रसोई योजना से अलग बनाया जाता है। सरकारी योजना के लिए राज्य सरकार द्वारा सालाना 100 करोड़ रुपए का बजट तैयार किया गया है।

राजस्थान अन्नपूर्णा रसोई योजना का उद्देश्य | Rajasthan Yuva Protsahan Yojana 2022 : Objectives

राजस्थान अन्नपूर्णा रसोई योजना का मुख्य उद्देश्य जरूरतमंद लोगों को दो समय का शुद्ध पौष्टिक भोजन उपलब्ध कराया जाना है। योजना का संचालन स्थानीय गैर सरकारी संगठन की भागीदारी और सूचना प्रौद्योगिकी की सहायता से प्रभावी तरीके से निगरानी की जाएगी। राजस्थान सरकार में बहुत सारे गरीब लोगों की आर्थिक स्थिति बहुत ज्यादा खराब हो गई थी।

साल 2016 के दौरान बहुत सारे गरीब लोग उनकी आर्थिक स्थिति की वजह से बहुत परेशान हो गए थे। जिसमें शहरी क्षेत्रों में रहने वाले श्रमिक रिक्शा वाले, ऑटो वाले कर्मचारी, विद्यार्थी, कामकाजी महिलाएं और बुजुर्गों के साथ-साथ कुछ और असहाय जरूरतमंद लोगों की दशा बहुत बुरी हो गई थी। क्योंकि उनके पास खाने के लिए कोई सामान उपलब्ध नहीं था। ऐसी परिस्थिति को ध्यान में रखते हुए राजस्थान सरकार द्वारा उन सभी लोगों के लिए अन्नपूर्णा रसोई योजना का आयोजन किया गया।

राजस्थान सरकार द्वारा जारी की गई अन्नपूर्णा रसोई योजना के अंतर्गत शहरों में रहने वाले गरीब व्यक्तियों को अन्नपूर्णा रसोई योजना के माध्यम से 5 रुपए की कीमत पर नाश्ता और 8 रुपए की कीमत पर पौष्टिक भोजन उपलब्ध कराया जाना है। यह योजना गरीब लोगों के लिए बहुत फायदेमंद साबित हुई है, क्योंकि गरीब लोगों को बहुत कम पैसों में जरूरतमंद और गरीब लोगों को अच्छा भोजन उपलब्ध करवाया जाता है।

राजस्थान अन्नपूर्णा रसोई योजना  के लाभ | Rajasthan Yuva Protsahan Yojana 2022 : Benefits

  • राजस्थान अन्नपूर्णा रसोई योजना के अंतर्गत रसोई वैन से लाभार्थियों को नाश्ता, दोपहर का भोजन और रात का भोजन दिया जाएगा।
  • इस योजना के अंतर्गत लाभार्थियों मात्र 5 रुपए में नाश्ता  प्राप्त कर  सकेंगे।
  • अन्नपूर्णा रसोई योजना के अनुसारनाश्ते के रूप में पोहा, सेवइयां, खिचड़ी ,बाजरा खिचड़ी, इडली सांभर, लापसी आदि दिया जाएगा।
  • भोजन करने वाले व्यक्ति को एक समय की थाली के लिए सिर्फ 8 रुपए खर्च करने होंगे।
  • इस योजना के तहत प्रति व्यक्ति थाली पर 20 रुपए का खर्च आएगा।
  • वह लोग जो बहुत गरीब और कम कमाते हैं उन्हें केवल 16 रुपए में दो वक्त का खाना मिल सकेगा।

प्रदेश में ऐसे गरीब व्यक्ति जो भोजन ना मिल पाने की वजह से मौत के शिकार हो जाते हैं। अब इस योजना के बाद ऐसी मौतों पर अंकुश लग जाएगा।

राजस्थान अन्नपूर्णा रसोई योजना की विशेषताएं | Rajasthan Yuva Protsahan Yojana 2022 : Features

  • राजस्थान अन्नपूर्णा रसोई योजना के द्वारा राजस्थान में रहने वाले गरीब और जरूरतमंद व्यक्तियों को नाश्ता, दोपहर का भोजन और रात का भोजन प्रदान किया जाता है।
  • इस योजना मुख्य विशेषता यह है कि इसमें 5 रुपए और 8 रुपए में पौष्टिक खाना प्रदान किया जाएगा।
  • इस योजना में गरीब लोगों को 5 रुपए में नाश्ता दिया जाता है जिसमें पोहा, इडली सांभर बाजरा की चढ़ा, गेहूं की चढ़ा आदि दिया जाता है
  • इस योजना के अंदर 8 रुपए की थाली में 450 ग्राम की भोजन की सामग्री शामिल की गई है।
  • जिसमें लोगों को दाल, चावल, गेहूं का चूरमा ,मक्का का नमकीन, उपमा दाल ढोकली आदि दिया जाता है।
  • राजस्थान सरकार द्वारा राज्य के 12 शहरों में मजदूरों, विद्यार्थियों, कामकाजी महिलाओं, बुजुर्गों और जरूरतमंद लोगों की सेहत को ध्यान में रखते हुए अन्नपूर्णा योजना शुरुआत की गई है।

राजस्थान अन्नपूर्णा रसोई योजना के लिए पात्रता | Rajasthan Yuva Protsahan Yojana 2022 : Eligibility

राजस्थान अन्नपूर्णा रसोई योजना के लिए इसी प्रकार का आवेदन नहीं किया जा सकता। इसलिए योजना के लिए किसी भी पात्रता का कोई महत्व नहीं माना जाता। राजस्थान सरकार अन्नपूर्णा रसोई योजना के जरिए राजस्थान सरकार राज्य में रहने वाले लोगों को केवल भोजन की सुविधा देना चाहते थे। ताकि राज्य में रहने वाले हैं गरीब लोग जो आर्थिक स्थिति से परेशान थे। भोजन की कमी से कुपोषण का शिकार ना हो जाए। इसलिए राजस्थान सरकार द्वारा यह योजना सिर्फ लोगों की भलाई और उन्हें भरपेट भोजन उपलब्ध कराने के लिए बनाई गई है। इसलिए इस योजना में इसी प्रकार की पात्रता भोजन देने से पहले लोगों से नहीं पूछी जाती है।

राजस्थान अन्नपूर्णा रसोई योजना के लिए आवेदन प्रक्रिया | Rajasthan Yuva Protsahan Yojana 2022 : Registration Process

  • इस योजना से जुड़ी किसी भी प्रकार की जानकारी के लिए आवेदक इस योजना के लिए जारी किए गए टोल फ्री नंबर 180-0270-1063  पर कॉल कर सकते हैं।
  • इस योजना की अधिक जानकारी के लिए व्यक्ति अन्नपूर्णा रसोई योजना की ऑफिशियल वेबसाइट पर भी जा सकते हैं।
  • इसके लिए आवेदक को अधिकारिक वेबसाइट http://suraaj,rajasthan.gov.in/hi/annapoorna-rasoi   के लिंक पर क्लिक करना होगा।
  • जिसके द्वारा राजस्थान के गरीब लोग भोजन के लिए इस योजना की जानकारी प्राप्त कर सकते हैं।

राजस्थान अन्नपूर्णा रसोई योजना के लिए संपर्क | Rajasthan Yuva Protsahan Yojana 2022 : Contact information

यदि कोई व्यक्ति राजस्थान अन्नपूर्णा रसोई योजना का लाभ लेना चाहता है या फिर योजना के बारे में जानकारी प्राप्त करना चाहता है वह नीचे दिए गए नंबर पर संपर्क कर सकते हैं।

Toll Free Number-180-0270-1063

राजस्थान सरकार द्वारा जारी की गई, इस योजना का  उद्देश्य राजस्थान के लोगों को सस्ते दामों पर उपलब्ध करवाना है। धीरे-धीरे योजना राजस्थान के 191 शहरों में पहुंच गई है। जहां पर 500 अन्नपूर्णा रसोई के माध्यम से लोगों को सभी प्रकार का भोजन करवाया जाता है। सच में किसी गरीब को भोजन खिलाना बहुत बड़ा पुण्य का काम माना जाता है। यह पुण्य का काम राजस्थान सरकार ने इस योजना के अंतर्गत शुरू कर दिया है। राज्य के बहुत सारे गरीब लोग हैं इस योजना के तहत खाना उपलब्ध करा चुके हैं।

राजस्थान सरकारी योजनाएंग्रेजुएशन कोर्ससरकारी योजनाएं
Spread the love

Leave a Comment