झारखंड सहिया आरोग्य कुंजी योजना 2022 | Jharkhand Sahiya Arogya Kunji Yojana 2022, Registration, Eligibility, Benefits

झारखंड सहिया आरोग्य कुंडी योजना ग्रामीण क्षेत्रों में स्वास्थ्य सुविधाओं को मजबूत बनाने के लिए शुरू की गई है। इस योजना के माध्यम से जो लोग ग्रामीण क्षेत्रों में रहते हैं और गरीब वर्ग से संबंध रखते हैं उन्हें वहीं पर स्वास्थ्य संबंधी सेवाएं उपलब्ध करवाई जाएंगी ताकि छोटी मोटी बीमारियां समय रहते ठीक की जा सके और आगे चलकर वह खतरनाक ना हो जाए।

झारखंड सैया आरोग्य कुंजी योजना  की घोषणा 19 जनवरी, 2019 को की गई। इस योजना की घोषणा राज्य के मुख्यमंत्री रघुवर दास जी द्वारा की गई। इस योजना के लिए 400 करोड रुपए का बजट तय किया गया था कि दूरदराज इलाकों में रहने वाले गरीब लोगों तक स्वास्थ्य संबंधी सेवाएं पहुंचाई जा सके तथा ग्रामीण क्षेत्रों में स्वास्थ्य सेवाओं को प्राथमिकता के आधार पर सुधारा जा सके।

झारखंड सहिया आरोग्य कुंजी योजना का उद्देश्य | Jharkhand Sahiya Arogya Kunji Yojana 2022 : Objectives

झारखंड सहिया आरोग्य कुंजी योजना का मुख्य उद्देश्य झारखंड के ग्रामीण क्षेत्रों में रहने वाले गरीब लोगों तक स्वास्थ्य संबंधी सुविधाएं पहुंचाना है क्योंकि ऐसे बहुत सारे लोग हैं जो कि ऐसे इलाकों में रहते हैं जहां से स्वास्थ्य संबंधी सेवाएं प्राप्त करने के लिए शहरों तक जाना मुमकिन नहीं है, तो ऐसे में उन्हीं तक सेवाएं पहुंच जाएं इसीलिए इस योजना की शुरूआत की गई है।

झारखंड सहिया आरोग्य निधि योजना एक ऐसी अनोखी योजना है जिसके अनुसार लोगों को मेडिकल किट के माध्यम से बुनियादी स्वास्थ्य सेवाएं उपलब्ध करवाई जाएंगी और उन्हें छोटी-मोटी परेशानियों के लिए शहर की तरफ नहीं जाना पड़ेगा बल्कि गांव में ही उन्हें बेहतर सुविधाएं मिल जाएंगी।

झारखंड सहिया आरोग्य कुंजी योजना के लाभ | | Jharkhand Sahiya Arogya Kunji Yojana 2022 : Benefits

  • इस योजना के तहत 10 चयनित लोगों को मेडिकल किट प्रदान किया जाएगा।
  • इस योजना के अनुसार स्वास्थ्य एवं चिकित्सा सेवाएं ग्रामीण क्षेत्रों में पहुंचाई जाएंगी।
  • ग्रामीण क्षेत्रों में स्वास्थ्य संबंधी सेवाओं को और ज्यादा दुरुस्त बनाया जाएगा।
  • जो लोग स्वास्थ्य संबंधी सेवाओं से वंचित रह जाते थे, अब उन्हें इस योजना के तहत समय रहते स्वास्थ्य सेवाएं मिल पाएंगी।
  • इस योजना के तहत विशेष मेडिकल किट उपलब्ध कराई जाएगी जो कि गरीब लोगों की बुनियादी स्वास्थ्य सेवाओं कोध्यान में रखते हुए तैयार की गई है।

झारखंड सहिया आरोग्य कुंजी योजना के तहत जारी किए गए दिशानिर्देश | | Jharkhand Sahiya Arogya Kunji Yojana 2022 : Guidelines

  • झारखंड सहिया आरोग्य योजना झारखंड के मूल निवासियों के लिए ही तैयार की गई है।
  • इस योजना के लिए आवासीय प्रमाण पत्र जमा करवाना अनिवार्य है।
  • इस योजना का लाभ केवल ग्रामीण क्षेत्रों में रहने वाले गरीब लोगों को ही पहुंचाया जाएगा।
  • जो व्यक्ति इस योजना के तहत मेडिकल किट प्राप्त करना चाहता है, वह व्यक्ति गांव से संबंध रखता हो।
  • आर्थिक रूप से कमजोर परिवार ही इस योजना के तहत लाभ उठा पाएंगे।
  • जो लोग इस योजना के तहत आवेदन करना चाहते हैं और लाभ उठाना चाहते हैं उन्हें अपना आमदनी से संबंधित दस्तावेज जमा करवाना अनिवार्य है।
  • आवेदक के पास वोटर आईडी कार्ड, राशन कार्ड और आधार कार्ड होना अनिवार्य है।

झारखंड सहिया आरोग्य कुंजी योजना के तहत आवेदन के लिए आवश्यक दस्तावेज | Jharkhand Sahiya Arogya Kunji Yojana 2022 : Required Documents

  • आधार कार्ड
  • मूल निवासी पहचान पत्र
  • राशन कार्ड
  • वोटर आईडी
  • आमदनी संबंधी दस्तावेज
  • मोबाइल नंबर

 झारखंड सहिया आरोग्य कुंजी योजना के तहत आवेदन प्रक्रिया | | Jharkhand Sahiya Arogya Kunji Yojana 2022 : Registration Process

झारखंड सहिया आरोग्य निधि योजना के तहत आवेदन करने के लिए किसी भी प्रकार के पंजीकरण की आवश्यकता नहीं है। ऑफलाइन सेवा ही उपलब्ध करवाई जा रही है, इसलिए ग्रामीण क्षेत्रों में रहने वाले लोगों को वह के अधिकारियों से संपर्क करके इससे संबंधित जानकारी हासिल करनी चाहिए।

झारखंड सहिया आरोग्य कुंजी योजना एक ऐसी योजना है जिसके माध्यम से गरीब वर्ग जो कि बुनियादी सेवाएं भी प्राप्त नहीं कर पाते थे वह अब उस प्रकार की सेवाएं प्राप्त कर पाएंगे। समय पर उन्हें दवाइयां मिल जाएंगी और समय रहते हो अपना इलाज करवा पाएंगे। जबकि पहले उन तक सेहत संबंधी सेवाएं पहुंच नहीं पाती थी जिस वजह से उनकी छोटी मोटी बीमारियां भी गंभीर रूप धारण कर लेती थी।

झारखंड सहिया आरोग्य कुंजी योजना विशेष रुप से ग्रामीण क्षेत्रों के लिए ही तैयार की गई है और कुछ ऐसे क्षेत्रों के लिए जो कि ऐसी जगहों पर स्थित है जहां पर बुनियादी स्कूल में नहीं पहुंच पा रही। इसीलिए इस योजना को ऑनलाइन नहीं किया गया बल्कि ऑफलाइन ही रखा गया है क्योंकि कई ऐसे इलाके हैं जहां पर अभी तक इंटरनेट जैसी सेवाएं भी नहीं पहुंच पाई है तो वहां पर रजिस्ट्रेशन हो पाना लगभग नामुमकिन है। ऐसे में ऑफलाइन माध्यम ही एकमात्र ऐसा माध्यम होता है, जहां से रजिस्ट्रेशन हो सकता है और ज्यादा से ज्यादा ग्रामीण इलाकों को इस योजना से जोड़ा जा सकता है।

झारखंड के ऐसे कई इलाके हैं जो कि अभी भी अंडरडेवलप्ड है अर्थात अभी तक पूरी तरह से विकसित नहीं हो पाए हैं और वहां पर बहुत सारी कम्युनिटी एक साथ रहती है जिनके पास मॉडर्न फैसिलिटी नहीं है। उन लोगों तक सेहत से संबंधित सेवाएं सही तरीके से पहुंच जाएं इसी को ध्यान में रखते हुए इस योजना को झारखंड में शुरू किया गया है। झारखंड के बहुत सारे गांव इस योजना से जुड़ चुके हैं और वहां पर 10 लोगों को चयनित कर के उन्हें मेडिकल kit भी उपलब्ध करवा दिया गया है, जिसका लाभ वहां पर रहने वाले लोग ले रहे हैं।

झारखंड सरकार का यही टारगेट है कि राज्य के सभी गांव को इस योजना से जोड़ दिया जाए और वहां पर रहने वाले गरीब लोगों को मेडिकल सुविधाएं मुफ्त में उपलब्ध करवाई जा सके ताकि बड़ी बड़ी बीमारियों का इलाज भी वह बिना किसी परेशानी के करवा पाए और उन्हें शहरों में जाने की आवश्यकता ही ना पड़े।

Jharkhand Sarkari YojanaGraduation CourseSarkari YojanaIndia Top ExamExcel Tutorial
Spread the love

Leave a Comment