बैचलर ऑफ टेक्नोलॉजी (B.Tech) – ग्रेजुएशन कोर्स | Eligibility for B.tech after 12th | B Tech Course Details in Hindi | B Tech Course Information 2022

बैचलर ऑफ़ टेक्नोलॉजी एक ग्रेजुएशन कोर्स है, जो बारहवीं के बाद छात्रों द्वारा किया जाता है। बैचलर ऑफ टेक्नोलॉजी (B.Tech) एक पेशेवर स्नातक इंजीनियरिंग डिग्री प्रोग्राम (Graduation Course) है, जो इंजीनियरिंग में रुचि रखने वाले छात्रों द्वारा संचालित किया जाता है। यह डिग्री प्रोग्राम 4 साल में पूरा होता है। यह स्नातक कार्यक्रम इंजीनियरिंग में कैरियर के लिए एक प्रवेश द्वार है। इस पाठ्यक्रम को मुख्य प्रौद्योगिकी और विकास क्षेत्र में काम करने के इच्छुक उम्मीदवारों के तकनीकी कौशल को विकसित करने के लिए तैयार किया गया है।

B.Tech में थ्योरेटिकल और एप्लाइड नॉलेज दोनों ज्ञान शामिल हैं। छात्रों को यह सीखने के लिए प्रशिक्षण भी दिया जाता है कि उनके संबंधित क्षेत्रों में विभिन्न सॉफ्टवेयर और हार्डवेयर कैसे संचालित होते हैं और कैसे नए संसाधन डेवेलप्ड किये जा सकते हैं।

मुख्य इंजीनियरिंग क्षेत्रों के अलावा छात्रों को (B.Tech) बैचलर ऑफ टेक्नोलॉजी उम्मीदवारों को सूचना प्रौद्योगिकी, डेटा विश्लेषण, परामर्श और प्रबंधन क्षेत्रों में काम करने में सक्षम बनाता है। अच्छे तकनीकी कौशल के साथ बैचलर ऑफ टेक्नोलॉजी स्नातक विभिन्न सार्वजनिक क्षेत्र के उपक्रमों (PSU) / प्राइवेट संस्थानों  और सरकारी क्षेत्र में अन्य नौकरियों के लिए अवसर भी प्राप्त होते हैं।

बैचलर ऑफ टैक्नोलॉजी (बीटेक) के लिए पात्रता मानदंड | Eligibility for BTech Study 2022

बीटेक में प्रवेश के लिए आवश्यक पात्रता मानदंड निम्नलिखित प्रकार हैं:-

न्यूनतम योग्यता आवश्यक: 10+2 पास कर चुके विद्यार्थी बैचलर ऑफ टैक्नोलॉजी (बीटेक) के लिए अप्लाई कर सकते हैं। केवल नॉन मेडिकल में बारहवीं पास कर चुके विद्यार्थी ही बी.टेक की प्रवेश परीक्षा दे सकते हैं और बी.टेक में दाखिला ले सकते है।

न्यूनतम मार्क्स आवश्यक (एग्रीगेट): न्यूनतम मार्क्स 50% होने आवश्यक होते हैं, परन्तु कई कॉलेज 70% मार्क्स प्राप्त कर चुके छात्रों को एडमिशन लेने के लिए अवसर प्रदान करते हैं। वैसे विभिन्न कॉलेजों में न्यूनतम मार्क्स 50% से 70% के बीच में ही निर्धारित करते हैं।

जिन छात्रों ने इंजीनियरिंग की किसी भी स्ट्रीम में डिप्लोमा किया होता है, वह विद्यार्थी भी डिग्री में दाखिला ले सकते हैं, उन स्टूडेंट्स की डिग्री की समय सीमा 3 साल होती है, अर्थात उनकी डिग्री 3 साल में कम्पलीट हो जाती है; जबकि 12th के बाद यदि डिग्री में दाखिला लेते हैं तो उनकी डिग्री 4 साल में पूरी होती है।

आयु सीमा: कुछ कॉलेजों और प्रवेशकों के पास बी.टेक पाठ्यक्रमों में प्रवेश लेने के इच्छुक उम्मीदवारों के लिए एक आयु सीमा निर्धारित की गयी है। वैसे परीक्षा की तारीख से गिने जाने वाले उम्मीदवारों की आयु 24 वर्ष से अधिक नहीं होनी चाहिए।

B.Tech प्रवेश प्रक्रिया 2022 | B.Tech Admission Process 2022 

  • Tech कार्यक्रमों में प्रवेश करने के लिए एक प्रवेश परीक्षा ली जाती है। केंद्रीय वित्त पोषित संस्थानों में प्रवेश जेईई मेन्स और जेईई एडवांस के आधार पर किया जाता है। यह प्रवेश परीक्षा बाहरवीं पास कर चुके छात्रों को देनी होती है। इस परीक्षा में प्राप्त रैंक के आधार पर छात्रों को कॉलेज प्राप्त होते हैं।
  • राजकीय महाविद्यालयों में प्रवेश अन्य क्षेत्रीय / राज्य प्रवेश परीक्षाओं के आधार पर किया जाता है अर्थात अन्य क्षेत्रीय / राज्य प्रवेश के लिए अन्य प्रवेश परीक्षायें भी ली जाती है, जिसके आधार पर कॉलेज में प्रवेश मिलता है।
  • कुछ निजी विश्वविद्यालय अपनी प्रवेश परीक्षा जैसे VITEE, BITSAT, SRMJEE भी आयोजित करते हैं, जिसके आधार पर कॉलेज में प्रवेश मिलता है।

भारत में शीर्ष 10 शिक्षक प्रशिक्षण पाठ्यक्रम | Top 10 Teaching Course 2022

निम्नलिखित कुछ लोकप्रिय इंजीनियरिंग प्रवेश परीक्षाएँ हैं, जो बी.टेक में प्रवेश के लिए आयोजित की जाती है | List of Entrance Exam for B.Tech

  • संयुक्त प्रवेश परीक्षा मुख्य (JEE Main)
  • संयुक्त प्रवेश परीक्षा उन्नत (JEE उन्नत)
  • बिड़ला इंस्टीट्यूट ऑफ टेक्नोलॉजी एंड साइंस एडमिशन टेस्ट (BITSAT)
  • पश्चिम बंगाल संयुक्त प्रवेश परीक्षा (WBJEE)
  • महाराष्ट्र कॉमन एंट्रेंस टेस्ट (MHT-CET)
  • वेल्लोर इंस्टीट्यूट ऑफ टेक्नोलॉजी इंजीनियरिंग प्रवेश परीक्षा (VITEEE)
  • कर्नाटक कॉमन एंट्रेंस टेस्ट (KCET)

बैचलर ऑफ टेक्नोलॉजी (B.Tech) के प्रकार | Course List For B.Tech

  • कंप्यूटर साइंस इंजीनियरिंग
  • मैकेनिकल इंजीनियरिंग
  • रासायनिक अभियांत्रिकी
  • अंतरिक्ष इंजीनियरिंग
  • असैनिक अभियंत्रण (Civil Engineering)
  • इलेक्ट्रिकल इंजीनियरिंग
  • सिरेमिक इंजीनियरिंग
  • इलेक्ट्रॉनिक्स और संचार इंजीनियरिंग
  • इंस्ट्रूमेंटेशन इंजीनियरिंग
  • मेटलर्जिकल इंजीनियरिंग
  • पेट्रोलियम इंजीनियरिंग
  • इलेक्ट्रॉनिक्स और इलेक्ट्रिकल इंजीनियरिंग

हालांकि ये सभी विशेषज्ञ छात्रों को विभिन्न करियर में आने के लिए तथा भविष्य के लिए उज्ज्वल संभावनाएं प्रदान करते हैं, लेकिन कंप्यूटर विज्ञान इंजीनियरिंग तथा आईटी आजकल सबसे अधिक मांग में से एक है।

डी एड कोर्स की सम्पूर्ण जानकारी | डी एड कोर्स 2022

यदि विद्यार्थी उच्च कट-ऑफ के मुताबिक प्रवेश परीक्षा में रैंक हासिल कर  छात्रों को भारत के सर्व श्रेष्ठ इंजीनियरिंग कॉलेज जैसे कि भारतीय प्रौद्योगिकी संस्थान (IITs), इंद्रप्रस्थ सूचना प्रौद्योगिकी संस्थान (IIITs) और राष्ट्रीय प्रौद्योगिकी संस्थान (NITs) आदि में पढ़ाई करने एवं अध्ययन करने का अवसर प्राप्त होते हैं। यह मौका प्राप्त  करने के लिए इन संस्थानों में पहले ही आवेदन करना पड़ता है।

बैचलर ऑफ टैक्नोलॉजी (बीटेक) सिलेबस 2022 | B.Tech Course Syllabus 2022

इंजीनियरिंग गणित (Engineering Mathematics) भारत में सभी B.Tech विशेषज्ञता के लिए सामान्य पाठ्यक्रम है, यह विषय सिलेबस में अनिवार्य रूप से शामिल है। हालाँकि, अन्य विषय स्ट्रीम के हिसाब से छात्रों को उपलब्ध कराये जाते हैं। भौतिकी और गणित की बुनियादी कॉन्सेप्ट्स सभी विशेषज्ञताओं/ स्ट्रीम्स में समान हैं। उदाहरण के लिए, इलेक्ट्रिकल इंजीनियरिंग और इलेक्ट्रॉनिक्स और संचार (communication) इंजीनियरिंग में कुछ विषय समान हैं। इसी तरह, सीएसई (CSE) और आईटी (IT) में कुछ विषय समान हो सकते हैं।

B.Tech कैरियर विकल्प और नौकरी की संभावनाएं | Career Option after B.tech 

  • बैचलर ऑफ टेक्नोलॉजीडिग्री पूरी करने के पश्चात विद्यार्थी चाहे तो उच्च स्तर पर अपनी शिक्षा को जारी रख सकते हैं
  • इसके अलावा बैचलर ऑफ टेक्नोलॉजी पूरी करने के बाद विद्यार्थियों को नौकरी के अच्छे अवसर भी प्राप्त होते हैं।
  • बैचलर ऑफ टेक्नोलॉजी सबसे व्यापक रूप से स्वीकृत कार्यक्रमों में से एक है और एक पसंदीदा कार्यक्रम है। चूंकि तकनीकी प्रगति लगभग हर क्षेत्र में हो रही है, इसलिए बीटेक के स्नातकों के लिए अनगिनत अवसर उपलब्ध हैं। बैचलर ऑफ टेक्नोलॉजी वाले छात्र अपने तकनीकी कौशल के कारण नौकरी के साक्षात्कार के दौरान बहुत अधिक लाभ प्राप्त करते हैं और बड़े उद्योगों तथा कंपनियों में नौकरी प्राप्त करते हैं।
  • प्राइवेट संस्थान एवं सरकारी संस्थानों में भी नौकरी के कई अवसर मिलते हैं।
  • तकनीकी क्षेत्र में बीटेक स्नातकों के लिए नौकरी के अवसर बहुत अधिक हैं।
  • किसी भी स्नातक जिसने सफलतापूर्वक बीटेक की डिग्री हासिल की है, उसे भारत में लगभग सभी क्षेत्रों में बड़ी आसानी से नौकरी मिल जाती है।
  • इंजीनियरों के रूप में काम पर रखने के अलावा, बीटेक स्नातकों को सलाहकार, विषय विशेषज्ञ, शोधकर्ता, प्रबंधक आदि के रूप में भी काम पर रखा जाता है।
  • हर क्षेत्र में बीटेक स्नातकों की मांग अधिक है। प्रत्येक कंपनी – विभिन्न क्षमताओं में सरकारी, बड़े या छोटे भर्ती इंजीनियरों के निजी अदारों में भी नौकरी के अच्छे अवसर प्राप्त होते हैं।
  • 4 साल के कार्यक्रम के बाद बीटेक स्नातकों की भर्ती करने वाली कुछ कंपनियां कॉलेजविद्यार्थिओं का अपनी कंपनी में चुनाव कर लेती हैं। हरेक 4 सालों के पश्चात कॉलेजों में प्लेसमेंट रखी जाती है, जहां पर बहुत सी कम्पनीज आती हैं, जो स्टूडेंस्ट की कुशलता एवं क्षमता का टेस्ट लेती हैं और उसी आधार पर उनका अपनी कमपनी में सिलेक्शन कर लेती हैं।

डीटीएल कोर्स 2022 | DTL Course in Hindi

बी.टेक ग्रेजुएट्स के लिए जॉब प्रोफाइल्स | Job Profile for B.tech Graduate

BTech career guide
BTech career guide
कंप्यूटर साइंस इंजीनियर

 

खनन अभियन्ता

 

यांत्रिकी अभियंता

 

सिरेमिक इंजीनियर

 

सिविल अभियंता

 

उत्पादन अभियंता

 

ऑटोमोबाइल इंजीनियर

 

रोबोटिक्स इंजीनियर

 

रासायनिक इंजीनियर

 

इलेक्ट्रॉनिक्स और संचार इंजीनियर

 

विद्युत इंजीनियर

 

व्याख्याता / प्रोफेसर

 

इलेक्ट्रॉनिक्स अभियंता

 

सॉफ्टवेयर का विकास

 

वैमानिक अभियांत्रिक

 

उत्पादन प्रबंधक

 

दूरसंचार अभियंता

 

एयरोस्पेस इंजीनियर

 

समुद्री इंजीनियर

 

निर्माण इंजीनियर

 

 

वेतन पैकेज | Salary Package for Btech Students

  • वेतन पैकेज संगठन से संगठन में भिन्न होते हैं अर्थात सेक्टर्स के काम के हिसाब से सैलरी पैकेज निर्धारित होता है। कोर सेक्टर में सबसे अच्छे सैलरी पैकेज प्राप्त होते हैं, लगभग 8 लाख से 25 लाख प्रति वर्ष तक का सैलरी पैकेज मिलता है।
  • कुछ विदेशी फर्म 1 करोड़ प्रति वर्ष तक का सैलरी पैकेज भी देते हैं।
  • बी.टेक करने वाले स्नातकों को नौकरी के अच्छे अवसर एवं वेतन पैकेज प्राप्त होते हैं।

बीए (Bachelor of Arts) कोर्सेज की पूरी जानकारी | BA Course 2022

बीटेक के पश्चात आगे की पढ़ाई | Course After B.tech

जो विद्यार्थी पीछे करने के पश्चात आगे की पढ़ाई जारी रखना चाहते हैं, वह विद्यार्थी बीटेक के बाद एमटेक  मास्टर ऑफ टेक्नोलॉजी के लिए भी अप्लाई कर सकते हैं, एमटेक (M.tech) कंप्लीट करने के पश्चात विद्यार्थियों को बड़े-बड़े कॉलेजों तथा यूनिवर्सिटी में लेक्चरर की नौकरी मिलने की संभावनाएं बढ़ जाती है, इसलिए कई विद्यार्थी बीटेक के पश्चात करने को पहल देते हैं।

बैचलर ऑफ टेक्नोलॉजी एक ऐसी डिग्री है, जिसे हर वह विद्यार्थी करना चाहता है; जो इंजीनियर के तौर पर देश तथा विदेश में नौकरी करना चाहते हैं। इस लाइन में विद्यार्थियों को टेक्निकल शिक्षा प्राप्त होती ,है जो विश्व स्तर पर उन्हें काम दिलाने में सहायता प्राप्त करती है।

जो भी विद्यार्थी बैचलर ऑफ टेक्नोलॉजी में दाखिला लेना चाहते हैं, उन विद्यार्थियों को 12th नॉन मेडिकल स्ट्रीम में ही पूरी करनी चाहिए, जो के दसवीं के बाद शुरू होती है; जिसमें 11वीं तथा 12वीं कक्षा नॉन मेडिकल स्ट्रीम में की जाती है और बाद में बीटेक में उन्हें दाखिला लेना होता है। विद्यार्थियों को अपना लक्ष्य पहले ही निर्धारित कर लेना चाहिए क्योंकि कंपटीशन बढ़ गया है और इस कंपटीशन में वही आगे बढ़ सकता है जिसने अपना लक्ष्य पहले ही निर्धारित कर रखा हो।

PM YojanaGraduation CourseSarkari YojanaIndia Top ExamExcel Tutorial
Spread the love

2 thoughts on “बैचलर ऑफ टेक्नोलॉजी (B.Tech) – ग्रेजुएशन कोर्स | Eligibility for B.tech after 12th | B Tech Course Details in Hindi | B Tech Course Information 2022”

Leave a Comment